मास्टर निदेश – आरबीआई (ऋण एक्सपोजर का अंतरण) - (मानक आस्तियों का प्रतिभूतिकरण) निदेश, 2021

रिज़र्व बैंक ने जी-सेक अभिग्रहण कार्यक्रम (जी-एसएपी 2.0) के अंतर्गत भारत सरकार की प्रतिभूतियों की खुला बाजार खरीद के साथ-साथ भारत सरकार की प्रतिभूतियों की बिक्री की घोषणा की

कोविड के बाद: एक मजबूत, समावेशी और टिकाऊ अर्थव्यवस्था की ओर - श्री शक्तिकांत दास, गवर्नर, भारतीय रिजर्व बैंक- द्वारा 22 सितंबर 2021, बुधवार को ऑल इंडिया मैनेजमेंट एसोसिएशन (AIMA) के 48 वें राष्ट्रीय प्रबंधन सम्मेलन में दिया गया मुख्य भाषण

रिज़र्व बैंक ने जी-सेक अभिग्रहण कार्यक्रम (जी-एसएपी 2.0) के अंतर्गत भारत सरकार की प्रतिभूतियों की खुला बाजार खरीद के साथ-साथ भारत सरकार की प्रतिभूतियों की बिक्री की घोषणा की

सुरक्षित रखने पर ध्यान दें (Heed to Heal) - जलवायु परिवर्तन उभरता वित्तीय जोखिम है (16 सितंबर 2021, गुरुवार को हरित और सतत वित्त पर CAFRAL आभासी सम्मेलन में श्री एम. राजेश्वर राव, उप गवर्नर, भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा दिया गया मुख्य भाषण)

मास्टर निदेश - भारतीय रिजर्व बैंक (ओटीसी डेरिवेटिव में बाजार -निर्माता) निदेश, 2021

आरबीआई बुलेटिन – सितंबर 2021

मौद्रिक नीति: महामारी द्वारा परीक्षण- डॉ माइकल देवव्रत पात्र, उप गवर्नर ,भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा 16 सितंबर 2021 को भारतीय उद्योग परिसंघ के वित्तीय बाजार शिखर सम्मेलन, मुंबई में किया गया संबोधन

आरबीआई ने भारतीय अर्थव्यवस्था संबंधी सांख्यिकी की विवरण पुस्तिका (हैंडबुक) 2020-21 जारी की

भारत और सिंगापुर अपने त्वरित भुगतान प्रणाली को जोड़ेंगे - एकीकृत भुगतान इंटरफ़ेस और पेनाउ (PayNow)

रिज़र्व बैंक ने विनियामक सैंडबॉक्स के तहत तीसरी कोहार्ट खोलने की घोषणा की

विनियामक सैंडबॉक्स (आरएस) – सीमापारीय भुगतान संबंधी दूसरी कोहार्ट - जांच चरण

विनियामक सैंडबॉक्स (आरएस) : "खुदरा भुगतान" पर पहली इकाई (कोहार्ट) – निकास

खाता संग्रहक के लिए नियामक ढांचा - आईस्पिरिट द्वारा 2 सितंबर 2021 को आयोजित आभासी कार्यक्रम के दौरान- श्री एम. राजेश्वर राव, उप गवर्नर की टिप्पणियाँ

आरबीआई ने केवाईसी अपडेशन के नाम पर हो रही धोखाधड़ी के खिलाफ आगाह किया

वृहत् एक्सपोज़र ढांचा - ऑफसेटिंग के लिए क्रेडिट जोखिम न्यूनीकरण (सीआरएम) - भारत में विदेशी बैंक शाखाओं के अपने प्रधान कार्यालय के साथ गैर-केंद्रीय रूप से समाशोधित व्युत्पन्न लेनदेन

ब्रिक्स अध्यक्षता 2021: केंद्रीय बैंक कार्यधारा के तहत दस्तावेज़

कार्ड लेनदेन का टोकनाइजेशन – वर्धन

आईएमएफ़ द्वारा विशेष आहरण अधिकार का सामान्य आवंटन

31 अगस्त 2021 को 21वें एफआईएमएमडिए-पीडीएआई (FIMMDA-PDA) वार्षिक सम्मेलन में मुख्य भाषण - श्री शक्तिकांत दास, गवर्नर, भारतीय रिज़र्व बैंक

भुगतान अवसंरचना विकास कोष - पीएम स्वनिधि योजना के लाभार्थियों को शामिल करना

भारतीय रिज़र्व बैंक ने चुनिंदा भुगतान प्रणालियों का दैनिक डेटा प्रकाशित किया

भर्ती संबंधी घोषणाएं

आगे और भी है...

कोई अतन जानकारी उपलब्‍ध नहीं.

नीति   दरें

नीति रिपो दर 4.00%
प्रत्‍यावर्तनीय रिपो दर 3.35%
सीमांत स्‍थायी सुविधा दर 4.25%
बैंक दर 4.25%

आरक्षित  अनुपात

सीआरआर 4.00%
एसएलआर 18.00%

विनिमय  दरें

एफबीआईएल संदर्भ दर
www.fbil.org.in

उधार / जमा  दरें

आधार दर 7.30% - 8.80%
एमसीएलआर (ओवरनाइट) 6.55% - 7.00%
बचत जमा दर 2.70% - 3.00%
सावधि जमा दर > 1 वर्ष 4.90% - 5.50%

बाजार   प्रवृत्तियां

मुद्रा बाजार दरें

मांग दरें1.95% - 3.40%*

*पिछले दिन

सरकारी प्रतिभूति बाजार

6.10% सरकारी प्रतिभूति 20316.1397%

5.85% सरकारी प्रतिभूति 20306.1293%

5.63% सरकारी प्रतिभूति 2026 5.5787%

5.15% सरकारी प्रतिभूति 20255.3135%

4.26% सरकारी प्रतिभूति 20234.1058%

3.96% सरकारी प्रतिभूति 20223.8983%

91 दिवसीय खज़ाना बिल 3.3439%*

182 दिवसीय खज़ाना बिल 3.4185%*

364 दिवसीय खज़ाना बिल3.5987%*

* अंतिम नीलामी में कट-ऑफ

# पहले के कार्य दिवस की समाप्ति पर

पूंजी बाजार

बीएसई सैंसेक्स59885.36*

एस एंड पी सीएनएक्स निफ्टी 17822.95*

*पिछले दिन

शिकायत दर्ज करें MANI RbiKehtahai दि आरबीआई म्यूजियम Fintech

© भारतीय रिज़र्व बैंक । सर्वाधिकार सुरक्षित

दावा अस्‍वीकरणकहाँ क्‍या है |